होम  /  प्रोगाम  /  शी रिप्रेजेंट्स 

शी रिप्रेजेंट्स

शक्ति है, भी

शी रिप्रेजेंट्स, राजनेत्री बनने आकांक्षा रखने वाली महिलाओं को 7 दिन का ऑनलाइन सीखने का अनुभव प्रदान करता है।

शी रिप्रेजेंट्स, सीखने का एक मौका है जहाँ हमारे भविष्य के नेताओं के मन, ह्रदय और हाथों का निर्माण होगा। शी रिप्रेजेंट्स का लक्ष्य उन महिलाओं के बीच ठोस राजनीतिक कौशल का निर्माण करना है जो राजनीति में शामिल होना चाहती हैं या पहले से ही इस यात्रा पर हैं, जो भारत की राजनीतिक वास्तविकता की गहराई जाना चाहती हैं, और जो आंतरिक और प्रणालीगत बाधाओं को दूर करना चाहती हैं।

शी रिप्रेजेंट्स, दरअसल राजनीति से प्रेरित सशक्त महिलाओं के साथ आने और सीखने का एक मंच है, जो राजनीति के माध्यम से भारत की सेवा करने का मकसद रखती हैं।

प्रोग्राम दिनांक: 18 - 22 मई 2022 और 28 और 29 मई 2022

पहले राउंड में आवेदन करने की अंतिम तिथि: 20 मार्च 2022

img-she-represents.png
isd-stroke-blue-02.png
isd-stroke-blue-01.png

शी रिप्रेजेंट्स के लिए क्यों आवेदन करें? 

isd-sr-knowledge-02.png

ठोस राजनीतिक ज्ञान और कौशल के लिए

isd-sr-career-02.png

राजनीति को महिलाओं के लिए एक आसान कैरियर बनाने के लिए

isd-sr-visualise-02.png

अपनी राजनीतिक यात्रा की कल्पना और उसे डिजाइन करना

isd-sr-mentoring.png

व्यक्तिगत मार्गदर्शन और सहयोग

isd-sr-community-02.png

राजनीति को महिलाओं के लिए एक आसान कैरियर बनाने के लिए

लोकप्रिय
व्यंजनों

शी रिप्रेजेंट्स 2021
की झलकियाँ

10 राज्य 20 प्रतिभागी 

 

शी रेप्रेसेंट्स 2021 इस कार्यक्रम का दूसरा संस्करण था। यह 20 महत्वाकांक्षी महिला नेताओं के साथ एक ऑनलाइन कार्यक्रम था, और यह प्रतिभागियों और टीम के लिए एक असाधारण अनुभव था। कई सामाजिक आंदोलनों और राजनीतिक दलों से 17 वक्ता हमारे साथ जुड़े थे।

 

प्रतिभागियों ने भारत के राजनीतिक इतिहास में महिलाओं की भूमिका के बारे में समझा और कई अन्य महिला राजनेताओं की यात्रा को सुना, अभियानों, लामबंदी, संचार आदि के लिए कई तरीके सीखे और भारतीय राजनीति में अधिक महिलाओं की आवश्यकता में उनके विश्वास मजबूत हुआ। 

 

उन्होंने एक साथ राजनीति में रहने के लिए अपने कारन का पता लगाया और हमने एक ऐसे समुदाय के गठन का अनुभव किया जो इस यात्रा में एक दूसरे के साथ खड़े रहेंगे।

isd-stroke-peach-01.png

झलकियाँ

isd-intellectual-capital.png

ज्ञान और कौशल

  • भारतीय राजनीतिक प्रणाली की एक मजबूत समझ का निर्माण
     

  • समुदायों की वकालत और संगठित करने आदि की विशेषज्ञता हासिल करने के लिए राजनीतिक कौशल सीखें
     

  • राजनीतिक, मीडिया और संचार कौशल हासिल करें
     

  • अपनी राजनीतिक यात्रा पर लागू करने के लिए जमीनी स्तर की समझ का निर्माण करें

isd-social-capital.png

समुदाय

  • भविष्य की महिला राजनेत्रियों के समुदाय का एक हिस्सा बनें
     

  • विभिन्न दलों और क्षेत्रों के नेताओं, राजनेताओं से जुड़ें
     

  • आईएसडी के बड़े, पूर्व प्रतिभागियों के समूहों के साथ मिलना
     

  • परिस्थितियों को समझने के लिए क्षेत्रीय समूह बनाएँ

isd-moral-capital.png

आंतरिक बदलाव

  • आंतरिक स्पष्टता के लिए चिंतनशील अभ्यासों में भाग लें
     

  • पूर्वाग्रह और दृष्टिकोण की पहचान करने के लिए अपने दायरे से बाहर आए
     

  • स्वयं को अक्षम और सक्षम करने की वाली शक्तियों की पहचान करें
     

  • विशेषाधिकार, पहचान और भूमिकाओं की परतों को समझें
     

  • राजनीति में नैतिकता के सवालों पर विचारे और अपनी नैतिक सीमा को स्पष्ट करें

isd-network-capital.png

एक्सपोज़र

  • सरपंच से लेकर संसद सदस्य तक, राजनीति में स्थापित और अनुभवी नेताओं को सुनें
     

  • अपने समुदाय में जमीनी स्तर के अनुभवों में शामिल हों
     

  • राजनीति में महिलाओं के सामने आने वाले अवसरों व चुनौतियों को समझें और उन्हें दूर करना सीखें

isd-stroke-peach-02.png

यह किसके लिए है?

30 प्रतिभागी | उम्र 18 से 50 साल

 

क्या आप एक राजनेत्री बनने की आकांक्षा रखने वाली महिला हैं? क्या आप अपनी राजनीतिक प्रतिबद्धता की ओर वाले कामों में शामिल हुई हैं? क्या आप भविष्य के सामाजिक नेतृत्व में अपनी भूमिका देखती हैं? अगर हाँ, तो हम आपको शी रिप्रेजेंट्स में आवेदन के लिए आमंत्रित करते हैं।

हम इस देश की विविधता का सम्मान करते हैं और अलग अलग राजनीतिक, धार्मिक, जातीय, वर्गीय, सांस्कृतिक, आर्थिक और क्षेत्रीय प्रष्ठभूमि वाली महिलाओं को आवेदन के लिए उत्साहित करते हैं।

हमें ऐसी महिलाओं की तलाश है जिन्होंने सामाजिक सेवा के क्षेत्र में ख़ुद को दर्शाया  है और राजनीतिक नेतृत्व का इरादा रखती हैं।

निम्न पृष्ठभूमि से आने वाले आवेदकों को प्राथमिकता दी जाएगी 

  1. पार्टी कार्यकर्ता/सदस्य

  2. छात्र राजनेता

  3. राजनीतिक कार्यकर्ता/मोबिलाइजर्स

  4. मीडियाकर्मी/पत्रकार

  5. ग्रामीण या शहरी स्थानीय शासन के इच्छुक या पद धारक

  6. सहायक राजनीतिक भूमिकाएँ और विशेषज्ञता

प्रोग्राम दिनांक: 18 से 22 मई  और 28-29 मई 2022

 

इमर्शन (Immersion): 18 - 22 मई 2022, सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे तक (ब्रेक के साथ)

इंटीग्रेशन (Integration): 28 और 29 मई 2022, सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे तक (ब्रेक के साथ)

ऑनलाइन शी रीप्रेजेंट्स के लिए आपको क्या चाहिए होगा?

सभी सत्र ऑनलाइन होंगेऑनलाइन सेशन में आंतरिक कार्य, कौशल निर्माण और समुदाय निर्माण शामिल होंगे।

नोट: आपको प्रत्येक दिन के लिए उपलब्ध होना आवश्यक है, इसलिए कृपया बीच में किसी भी व्यक्तिगत या काम से संबंधित कार्यों के लिए प्रतिबद्ध न हों। सेल्फ वर्क और सेशन के लिए प्रेप भी करें । 

आपको लंबी अवधि के लिए ऑडियो और वीडियो स्ट्रीमिंग की अनुमति देने के लिए एक स्थिर इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता होगी, और लॉग इन करने के लिए एक लैपटॉप या कंप्यूटर भी (मोबाइल में सभी ऑनलाइन सुविधाओं का अच्छे से इस्तेमाल नहीं हो पाता हैं)

सभी सत्रों के लिए आपकी उपलब्धता, उल्लिखित तारीखों के लिए उपस्थिति अनिवार्य है ।

isd-stroke-green-02.png
isd-stroke-green-01.png

शी रिप्रेजेंट्स 2020 के स्पीकर

Abha Banerjee.jpg

आभा बनर्जी

मोटिवेशनल स्पीकर और लेखिका

Abhinandita Mathur.jpg

अभिनन्दिता माथुर

एडवाइजर(AAP)

Anu Aga.jpg

अनु आगा

पूर्व राज्य सभा सदस्य, पद्मा श्री

Bhumika Sahani, Haiyya.jpeg

भूमिका साहनी 

हैय्या

Charu.jfif

चारू प्रज्ञा 

राष्ट्रीय मीडिया पैनेलिस्ट- भाजपा

शुल्क और योगदान

हमारा इरादा इस मूल्यवान कार्यक्रम को सामाजिक-आर्थिक स्थिति के बावजूद सभी के लिए सुलभ बनाना है। कार्यक्रम की लागत 20,000 रुपये है। प्रत्येक प्रतिभागी से उनकी क्षमता के आधार पर 8000-20,000 INR के बीच योगदान करने की अपेक्षा की जाती है। हम एक विश्वास आधारित मॉडल पर काम करते हैं जिसमें प्रत्येक प्रतिभागी से अपनी क्षमता के अनुसार योगदान देने की अपेक्षा रखते है।

 

हम वित्तीय सहायता प्रदान करते हैं जो उन लोगों के लिए कार्यक्रम के आंशिक योगदान को कवर करती है जिनके पास कार्यक्रम के लिए खुद को समर्थन देने की वित्तीय क्षमता नहीं है। चयन प्रक्रिया केवल प्रत्येक उम्मीदवार की योग्यता और क्षमता को देखती है। यदि आप इस कार्यक्रम के लिए सही हैं, तो हम सामूहिक रूप से संसाधन उपलब्ध करने पर काम करेंगे।  

 

इंडियन स्कूल ऑफ डेमोक्रेसी में हम इसे लागू करने के लिए हम ऐसे ट्रस्ट-आधारित मॉडल के साथ प्रयोग कर रहे हैं जो सहयोगात्मक, सामूहिक और सह-स्वामित्व का अहसास करता हो।