होम  /  प्रोगाम  /  सामान्य प्रश्न

सामान्य प्रश्न

एक साल के प्रोग्राम के लिए

दूसरे ट्रेनिंग प्रोग्राम की तुलना में इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में ऐसी क्या विशेष बात है जिसे देखकर मैं इसका हिस्सा बनना चाहूं?


यहाँ दूसरे प्रोग्रामों की तरह आपको अपने काम से पूरे साल की छुट्टी नहीं लेनी पड़ती। दी गुड पॉलिटिशियन की प्रबंधक प्रकृति यह सुनिश्चित करती है कि प्रतिभागी बिना अपनी वर्तमान जिम्मेदारी को छोड़े इसका हिस्सा बन सके। 'करके सीखो' विचारधारा पर आधारित यह प्रोग्राम प्रतिभागियों द्वारा आवासीय चरण में सीखी गई शिक्षा को उनके कार्यक्षेत्र में आजमाने का मौका प्रदान करती है। इस प्रोग्राम की कल्पना ही सक्रिय कामकाजी लोगों के वर्तमान काम में मदद के लिए की गई है।




यह प्रोग्राम कब शुरू होगा?


यह प्रोग्राम 15 अगस्त 2021 से शुरू होकर मई 2022 तक चलेगा|




इस 9 महीने के प्रोग्राम की रूपरेखा क्या है?


9 महीनों को 3 तिमाही में विभाजित किया गया है। हर तिमाही में 2-3 हफ़्तों का 'आवासीय प्रोग्राम' होगा जहाँ प्रतिभागियों को खुद टीम और पूरे ग्रुप के साथ पूरा समय बिताना होगा। 'आवासीय' के बाद 12-16 हफ़्तों के 'जमीनी कार्य' में आप आवासीय में सीखी गई शिक्षा को अपने क्षेत्रों में अपनायेंगे। 'आवासीय प्रोग्राम' में अकादमिक और कौशल प्रशिक्षण के अलावा प्रतिभागियों को देश के भिन्न हिस्सों की यात्रा भी करवाई जाएगी ताकि वे भारत की विविधताओं को महसूस कर सके।




प्रोग्राम के लिए कितना समय देना होगा?


कामकाजी पेशेवर और राजनीति में सक्रिय लोग भी इसमें आवेदन कर सकते हैं बशर्ते वे 7 हफ़्तों के आवासीय प्रोग्राम और उसके अलावा साप्ताहिक ऑनलाइन क्लासेस में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा पाए। आवासीय के 7 हफ़्ते बहुत कड़े होंगे। हर मॉड्यूल के लिए पहले से ही अपेक्षित कार्य की जरूरत होगी। यात्रा के साथ ही बहुत सारे सत्र और चर्चाओं के चलते दिन बहुत व्यस्त होंगे। प्रतिभागी छोटे समूहों में बाँटे जाएंगे जहाँ वे सामूहिक कार्य करेंगे और साथ ही वे क्षेत्रीय सर्किल का भी हिस्सा होंगे जहाँ वे अपने फील्ड प्रोजेक्ट के ऊपर काम करेंगे। जमीनी कार्य के दौरान वे सीखी गई चीज़ों को अपने क्षेत्र में लागू करेंगे और हर सप्ताह होने वाली कॉल के जरिये उनपर और आगे भी काम करते रहेंगे। हम अपने प्रतिभागियों से ये आशा करते हैं कि वे अपनी भागीदारी को गंभीरता से लेंगे और तय समय पर अपेक्षित अकादमिक कार्य, प्रोजेक्ट से संबंधित दिये गए कामों को पूरा करने के साथ साथ अपने समूह के सदस्यों के प्रति अपने दायित्वों को निभाएंगे।




यह प्रोग्राम कहाँ आयोजित होगा?


हर आवासीय प्रोग्राम देश के भिन्न-भिन्न हिस्सों में होगा। पहला आवासीय एनसीआर में और उसके आसपास होगा। दूसरा आवासीय महाराष्ट्र में शुरू होगा और तेलंगाना में ख़त्म। तीसरा आवासीय कर्नाटक, केरल से होते हुए तमिलनाडु में ख़त्म होगा।




प्रोग्राम पाठ्यक्रम क्या होगा और किस तरह का प्रशिक्षण दिया जाएगा?


प्रतिभागियों में राजनीतिक तत्परता पैदा करने के लिए प्रोग्राम में एक अंतःविषय पाठ्यक्रम दिया जाता है। हम साथ साथ सीखने के लिए, वाद-विवाद, संवाद, व्याख्यान, प्रस्तुतीकरण और जमीनी स्तर में रम जाने के लिए विभिन्न प्रकार के अनुदेशात्मक तरीकों का भी उपयोग करते हैं। पाठ्यक्रम और कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप हमारे कार्यक्रम पृष्ठ को देख सकते हैं।




क्या मैं एक आवासीय प्रोग्राम छोड़ सकता हूँ, कुछ दिन देरी से आऊँ या जल्दी चला जाऊं?


नहीं। हर आवासीय प्रोग्राम और तिमाही की रूपरेखा इस तरह बनाई गई है कि प्रतिभागियों में नेतृत्व का विकास हो और साथ ही जमीनी कार्य में काम आने वाले भिन्न कोशल और विशिष्ट जरूरतों को भी कैसे पूरा किया जाये, सिख सकें । हम छोटे और बहुत ही गहन मॉड्यूल को अपनाते है और उसमें कुछ दिन न आना मतलब सीखने का एक बहुत बड़ा हिस्सा छूट जाना। फिर भी किसी विशेष परिस्थिति को परिस्थिति की गंभीरता से समझा जा सकता है।




क्या आप डिग्री या प्रमाणपत्र देते हैं?


कोर्स पूरा होने के बाद आपको एक प्रमाणपत्र दिया जाएगा जो स्वीकारता है कि आपने हमारे साथ दी गुड पॉलिटिशियन' में भाग लिया है और इसे पूरा किया है। आईएसडी ने एक कार्य आधारित संस्था होना चुना है न कि अकादमिक संस्था। इस वजह से हमारे पास एक औपचारिक डिग्री या डिप्लोमा जारी करने के लिए जरूरी मान्यता नहीं है। हमारा पूरा ध्यान भविष्य के राजनीतिक नेताओं को सही मार्गदर्शन और दिशा प्रदान कर सहारा देने पर टिका हुआ है और ये सब हम अपने हर प्रोग्राम के जरिए विकसित करने की उम्मीद रखते है। हमारा मानना है कि यह सब किसी प्रमाणपत्र की तुलना में कहीं ज्यादा कीमती है।




निर्देशों की भाषा क्या होगी?


हमारे प्रतिभागी देशभर से आते हैं और विविध भाषाएँ बोलते हैं। इसलिए इसे सुलभ बनाने के लिए अधिकांश निर्देश हिंदी और अंग्रेजी में होंगे। हम आशा करते है कि प्रतिभागी दोनों में से एक भाषा में प्रवीण होंगे। हम पढ़ाई की सारी सामग्री दोनों भाषाओं में उपलब्ध कराते हैं। कोर्स में द्विभाषी निर्देश सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त मदद भी प्रदान की जाएगी। अगर आपके पास इसके अलावा भी कुछ सवाल है तो हमसे संपर्क कर सकते हैं।




आप नेताओं और पार्टियों में इंटर्नशिप या प्लेसमेंट करवाते हैं?


नहीं हमारी टीम और द गुड पॉलिटिशियन प्रोग्राम किसी तरह की इंटर्नशिप या नौकरी की जिम्मेदारी नहीं लेती है। प्रोग्राम आपको नेताओं को सुनने का, उनसे मिलकर जुड़ने के पर्याप्त मौके देता है। ये प्रतिभागियों के ऊपर निर्भर करता है कि किस तरह वे इस मौके का फायदा उठाते है। आईएसडी सिर्फ एक गुटनिरपेक्ष संयोजक की भूमिका निभाता है।




आवासीय प्रोग्राम में दिन कैसे बीतता है?


आवासीय प्रोग्राम बहुत कम समय का होता है इसलिए ये दिन भिन्न किर्याकलापों से भरे होते हैं। हमारे दिन सुबह जल्दी 6 बजे ही, पूरे ग्रुप के संग मॉर्निंग सर्किल के साथ शुरू होते हैं। उसके बाद थोड़ा शारीरिक व्यायाम, ध्यान और परिसर में श्रम दान किया जाता है। नाश्ता के बाद 8:30 के बाद का वक़्त भिन्न सत्र, बाहर से आये विशेष वक्ताओं से विमर्श में और यात्रा करने में लग जाते हैं। टीम के साथ में क्लोज़िंग सर्किल के बाद हमारा दिन रात 9 बजे ख़त्म होता है जिसके बाद प्रतिभागी चाहे तो आराम कर सकते हैं या अनोपचारिक रूप से आपस में चर्चा कर सकते हैं। .




जमीनी कार्य के दरमियान क्या होगा?


प्रत्येक प्रतिभागी के लिए जमीनी कार्य, प्रतिभागी किन क्षेत्रों में काम कर रहे हैं उस पर निर्भर करता है। जमीनी कार्य के दौरान साप्ताहिक ऑनलाइन सतत संपर्क रहेगा। ज्यादातर ये सब सप्ताह के अंत में होगा। हर दूसरे सप्ताह फैकल्टी, टीम और बाहर से आये अतिथि के साथ सत्र होंगे। इसी बीच प्रतिभागी से उम्मीद की जाती है कि वे जमीनी कार्य के दौरान हुए अनुभवों और अपनी प्रगति रिपोर्ट को साझा करेंगे और साथ ही जरूरत के आधार पर सहयोग भी लेंगे।




प्रोग्राम के दौरान प्रतिभागी से क्या अपेक्षित है?


  • तिमाही के पहले और बाद के सारे जरूरी काम पूरे हो
  • आवासीय प्रोग्राम और ऑनलाइन सत्र में उपस्थिति
  • सबका सम्मान और अपने दायित्वों के प्रति गंभीरता




आवासीय प्रोग्राम के दौरान रहने ठहरने की व्यवस्था?


आईएसडी एक मितव्ययी संस्था है अतः हमारी यात्रा, भोजन और रुकने की व्यवस्था बहुत ही साधारण और सादगीभरी होगी। आवासीय प्रोग्राम के दौरान टीम और प्रतिभागी, छात्रावास या सामुदायिक कमरों में साथ रहेंगे। कैंपस में सरल शाकाहारी भोजन दिया जाएगा। मेडिकल कंडीशन और खाने से होने वाली एलर्जी का भी ध्यान रखा जाएगा। यात्राएं नॉन ऐसी स्लीपर बस या रेल में स्लीपर श्रेणी से करवाई जाएगी।




आवासीय और यात्राओं के दौरान प्रतिभागियों की सुरक्षा को कैसे सुनिश्चित करेंगे?


हमारी टीम और प्रतिभागियों में 50% महिला होगी। इसलिए उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सारे आवासीय इलाकों का पहले से ही सर्वेक्षण किया जाएगा और सारे सुरक्षा संबंधी एहतियात बरते जाएंगे। आवासीय प्रोग्राम के दौरान प्रतिभागियों और टीम को छात्रावास में साथ ठहराया जाएगा। हम समूहों में यात्रा करेंगे और सभी लोगों का ध्यान रखेंगे। यात्रा की सारी व्यवस्था पूर्व में ही कर ली जाएगी और किसी की ख़ास जरूरत को भी ध्यान रखा जाएगा। टीम के सदस्यों और प्रतिभागियों को हमारी सख्त नीतियों का पालन करना होगा। किसी भी तरह के खतरे, दुर्व्यवहार या नुकसान का तुरंत संज्ञान लिया जाएगा और उसके अनुसार कारवाई की जाएगी।





आवेदन और चयन

चयन प्रक्रिया क्या है और कितने चरण में पूरी होगी?


हमारा हर प्रोग्राम उम्मीदवार को पूरी तरह समझने पर जोर देता है। इसलिए हमारी चयन प्रक्रिया अमूमन बहुत विस्तृत होती है। दी गुड पॉलिटिशियन प्रोग्राम के तीन चरण है। सबसे पहला है ऑनलाइन आवेदन फॉर्म। फॉर्म 26 नवंबर से उपलब्ध होंगे। चुने गए प्रतिभागियों को हमारी टीम के एक सदस्य के साथ वीडियो इंटरव्यू के लिए आमंत्रित किया जाएगा। इन इंटरव्यू को दिसम्बर के आखिर में या जनवरी की शुरुआत में लिया जाएगा। सबसे आखिर चरण में उम्मीदवार को ख़ुद वीकेंड बूटकैम्प में आना होगा। चुने गए उम्मीदवारों को एक क्षेत्रीय कैम्प में 2 दिन हमारे साथ जुड़ने के लिए बुलाया जाएगा। यह मार्च और अप्रैल में पूरे भारत में होगा। अंत में जो चुने जाएंगे उन्हें कॉल या ईमेल के जरिए औपचारिक आमंत्रण भेज दिया जाएगा। मई 2021 तक आप अंतिम परिणाम आने की उम्मीद कर सकते हैं।




इस प्रोग्राम के लिए एक आदर्श उम्मीदवार कौन है?


हम उन युवाओं की तलाश में है जो भविष्य में सिद्धांतवादी राजनेता बनना चाहते हैं। हम राजनीतिक दलों, राजनीति में काम कर रहे दूसरे संगठनों, सामाजिक आंदोलनों, छात्र राजनीति, चुनाव और अभियानों, संगठित संघ समूहों आदि से जुड़े हुए और पहले से ही जमीन पर राजनीतिक काम में शामिल युवा नेताओं की तलाश कर रहे हैं। जो भिन्न मुद्दों या क्षेत्रों में काम कर रहे हो और उनका गहन स्थानीय राजनीतिक समझ हो और जिनके पास पास जमीन पर काम करने का अनुभव भी हो|




क्या प्रोग्राम में शामिल होने के लिए कोई न्यूनतम पात्रता है?


उम्मीदवार का 12वी पास होना जरूरी है। यह कोर्स के दौरान दी जाने वाले पढ़ाई की सामग्री और काम को समझने के लिए आवश्यक है। उम्र की सीमा बहुत विस्तृत है, 25 से 45 वर्ष। अगर कोई असाधारण व्यक्ति जिसकी उम्र इससे भी ज्यादा है उसे अपवादस्वरूप शामिल किया जा सकता है।




आवेदन कैसे करें?


ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की लिंक प्रोग्राम पेज पर दी गई है। फॉर्म द्विभाषी है। आप अपने उत्तर हिंदी या अंग्रेजी में लिख सकते हैं।




आवेदन करने की फीस है?


ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की लिंक प्रोग्राम पेज पर दी गई है। फॉर्म द्विभाषी है। आप अपने उत्तर हिंदी या अंग्रेजी में लिख सकते हैं।




मैं फुलटाइम काम कर रहा हूँ क्या फिर भी मैं आवेदन कर सकता हूँ?


प्रोग्राम में 9 महीनों के अंतराल में 7 हफ़्ते का अनिवार्य आवासीय प्रशिक्षण और जमीनी कार्य के दौरान साप्ताहिक ऑनलाइन सत्र होता है। अगर आपको लगता है कि आप प्रतिबद्धता के साथ इतना समय दे पाएंगे, तो आपको जरूर आवेदन करना चाहिए।




मैं पहले से ही एक राजनीतिक पार्टी से जुड़ा हुआ हूँ क्या मैं आवेदन कर सकता हूँ?


जी, हमें ऐसे लोगों की ही तलाश है जो पहले से ही जमीन पर सक्रिय है। आपका किसी भी पार्टी से संबंध हो, आप प्रोग्राम के लिए आवेदन कर सकते हैं।




व्यक्तिपरक प्रश्नों के उत्तर में मुझे क्या लिखना चाहिए?


आवेदन फॉर्म आपको अपने बारे में, अपनी कहानी कहने, अपने अनुभवों और सपनों को बताने का मौका देता है। हम प्रतिभागी के जवाब में ईमानदारी ढूंढ़ते हैं। इसलिए हम आपको प्रोत्साहित करते हैं कि आप निष्ठा और अपने मन से सारे प्रश्नों के जवाब दें।




क्या मैं आवेदन में अपना सीवी या अनुभव प्रमाणपत्र प्रस्तुत कर सकता हूँ?


हाँ, अपने आवेदन का समर्थन करने के लिए आप दो दस्तावेज तक लगा सकते हैं।




आवेदन करने के कितने समय बाद मुझे जवाब मिल जाएगा?


हमें बहुत सारे लोग आवेदन मिलते है। छोटी टीम होने के चलते एक एक फॉर्म से गुजरने में बहुत वक़्त लगता है। अमूमन 3-6 हफ़्तों में आपको जवाब मिल जाएगा। इसके अलावा आप हमारे प्रोग्राम पेज पर जाकर घटनाक्रम को समझ सकते हैं और उनके इर्द गिर्द अपने जवाब की उम्मीद कर सकते हैं।




चयन प्रक्रिया मेरी राजनीतिक और नेतृत्व क्षमता का कैसे आंकलन करेगी? प्रोग्राम में चयन होने का अंतिम निर्णय कब बताया जाएगा?


कोहोर्ट के लिए अंतिम निर्णय की उम्मीद मई 2021 तक की जा सकती है। पूरी प्रक्रिया के दौरान हमारी टीम आपसे संपर्क में रहती है और होने वाले परिवर्तनों के बारे में आपको सूचित करती रहती है।




क्या एक भारतीय जो विदेश में रहता है आवेदन कर सकता है?


हाँ. अगर आप भारतीय नागरिक है तो आवेदन कर सकते हैं। हालांकि आपका चयन इस बात पर निर्भर करता है कि आपके वर्तमान राजनीतिक अनुभव और महत्वकांक्षा हमारी अपेक्षा पर खरी उतरती है या नहीं।.




मैं विदेशी पासपोर्ट धारक भारतीय हूँI क्या आवेदन कर सकता हूँ ?


नहीं, चुनाव लड़ने के लिए भारतीय पासपोर्ट का होना जरूरी होता है।




क्या दिव्यांग इसके लिए आवेदन कर सकते हैं?


हाँ, हमारा प्रोग्राम सबका स्वागत करता है। प्रोग्राम को राजनीतिक काम और जुड़ाव के लिए बनाया गया है। अगर आप राजनीति के लिए उचित बैठते है तो हमारे लिए भी आपका स्वागत है।




प्रतिनिधि कोहॉर्ट क्या है? हर ग्रुप में आप विवधता कैसे सुनिश्चित करेंगे?


हमारा कोहॉर्ट सही अनुपात में भारत की जातियों, धर्म, वर्ग और क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करता है। इसके साथ ही 50% महिला और 50% पुरूष। इस प्रोग्राम के बारे में जानकारी देने के लिए हम चयनित इलाकों में जाकर और भिन्न नेटवर्क के जरिये यह सुनिश्चित करते है की विभिन्न जगह और व्यक्तियों तक ये बात पहुँच सकें। लोकतंत्र सबका है और हमारे सारे सहयोगियों ने विविधता लाने में हमारी मदद की है।




क्या किसी विशेष लिंग , समुदाय या पृष्ठभूमि से आने वाले को खास तरजीह दी जाती है?


हम महिलाओं और दूसरे वंचित तबकों को प्रोत्साहित करते हैं कि वे प्रोग्राम का हिस्सा बने। राजनीति में जाने के लिए अधिकांश जेंडर और तबकों के लिए पारंपरिक तरीके मौजूद है। जो वंचित रह गए हैं उनके लिए हमें एक वैकल्पिक रास्ता बनाना होगा। हालांकि प्रोग्राम में किसी के लिए हम अपनी अपेक्षाओं को कम नहीं करते हैं पर हाँ चकाचौंध से दूर रहे लोगों के पास जाकर प्रोग्राम के बारे में बताकर मदद जरूर करते हैं।




क्या वंचित पृष्ठभूमि के लिए प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा?


आवेदन के स्तर पर नहीं। अगर आप प्रोग्राम में शामिल किए जाते हैं तब इस तरह के प्रमाणपत्र की जरूरत पड़ेगी।




अगर मैं वीकेंड बूटकैम्प के चुना जाता हूँ तो मेरी यात्रा खर्च का वहन आईएसडी करेगा? कितनी सिफारिश या रिफरेन्स प्रस्तुत करने होंगे?


अलग अलग लोगों से 3 सिफारिश की आवश्यकता है। एक प्रबंधक से, सहकर्मी से दूसरी और आपके चुनाव क्षेत्र से किसी सदस्य से तीसरी।




वीडियो इंटरव्यू में क्या होने वाला है?


वीडियो इंटरव्यू में हमारी टीम का एक सदस्य एक उम्मीदवार से 45-50 मिनट तक बात करेगा। बातचीत का उद्देश्य आपके पूर्व अनुभवों,राजनीति में आने की प्रेरणा और वर्तमान अनुभवों को समझना है। इसके लिए अलग से तैयारी की जरूरत नहीं। बस आराम से आइए।




वीकेंड बूटकैम्प में क्या होगा?


बूटकैम्प में आप प्रोग्राम के अपने संभावी साथियों के साथ वीकेंड बिताते हैं जहाँ चर्चाएँ, वादविवाद, सत्र और दूसरी गतिविधियां होती है। आपको हमारी टीम, क्षेत्र के दूसरे राजनीतिक उम्मीदवार से मिलने का और साथ ही अपना काम साझा करके एक दूसरे से सीखने का मौका मिलता है। प्रतिभागी तय स्थान पर शुक्रवार शाम को आएँगे और रविवार शाम को रवाना हो जाएंगे।





फीस & छात्रवृत्ति

दूसरे ट्रेनिंग प्रोग्राम की तुलना में इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में ऐसी क्या विशेष बात है जिसे देखकर मैं इसका हिस्सा बनना चाहूं?


यहाँ दूसरे प्रोग्रामों की तरह आपको अपने काम से पूरे साल की छुट्टी नहीं लेनी पड़ती। दी गुड पॉलिटिशियन की प्रबंधक प्रकृति यह सुनिश्चित करती है कि प्रतिभागी बिना अपनी वर्तमान जिम्मेदारी को छोड़े इसका हिस्सा बन सके। 'करके सीखो' विचारधारा पर आधारित यह प्रोग्राम प्रतिभागियों द्वारा आवासीय चरण में सीखी गई शिक्षा को उनके कार्यक्षेत्र में आजमाने का मौका प्रदान करती है। इस प्रोग्राम की कल्पना ही सक्रिय कामकाजी लोगों के वर्तमान काम में मदद के लिए की गई है।




यह प्रोग्राम कब शुरू होगा?


यह प्रोग्राम 15 अगस्त 2021 से शुरू होकर मई 2022 तक चलेगा|




इस 9 महीने के प्रोग्राम की रूपरेखा क्या है?


9 महीनों को 3 तिमाही में विभाजित किया गया है। हर तिमाही में 2-3 हफ़्तों का 'आवासीय प्रोग्राम' होगा जहाँ प्रतिभागियों को खुद टीम और पूरे ग्रुप के साथ पूरा समय बिताना होगा। 'आवासीय' के बाद 12-16 हफ़्तों के 'जमीनी कार्य' में आप आवासीय में सीखी गई शिक्षा को अपने क्षेत्रों में अपनायेंगे। 'आवासीय प्रोग्राम' में अकादमिक और कौशल प्रशिक्षण के अलावा प्रतिभागियों को देश के भिन्न हिस्सों की यात्रा भी करवाई जाएगी ताकि वे भारत की विविधताओं को महसूस कर सके।




प्रोग्राम के लिए कितना समय देना होगा?


कामकाजी पेशेवर और राजनीति में सक्रिय लोग भी इसमें आवेदन कर सकते हैं बशर्ते वे 7 हफ़्तों के आवासीय प्रोग्राम और उसके अलावा साप्ताहिक ऑनलाइन क्लासेस में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा पाए। आवासीय के 7 हफ़्ते बहुत कड़े होंगे। हर मॉड्यूल के लिए पहले से ही अपेक्षित कार्य की जरूरत होगी। यात्रा के साथ ही बहुत सारे सत्र और चर्चाओं के चलते दिन बहुत व्यस्त होंगे। प्रतिभागी छोटे समूहों में बाँटे जाएंगे जहाँ वे सामूहिक कार्य करेंगे और साथ ही वे क्षेत्रीय सर्किल का भी हिस्सा होंगे जहाँ वे अपने फील्ड प्रोजेक्ट के ऊपर काम करेंगे। जमीनी कार्य के दौरान वे सीखी गई चीज़ों को अपने क्षेत्र में लागू करेंगे और हर सप्ताह होने वाली कॉल के जरिये उनपर और आगे भी काम करते रहेंगे। हम अपने प्रतिभागियों से ये आशा करते हैं कि वे अपनी भागीदारी को गंभीरता से लेंगे और तय समय पर अपेक्षित अकादमिक कार्य, प्रोजेक्ट से संबंधित दिये गए कामों को पूरा करने के साथ साथ अपने समूह के सदस्यों के प्रति अपने दायित्वों को निभाएंगे।




यह प्रोग्राम कहाँ आयोजित होगा?


हर आवासीय प्रोग्राम देश के भिन्न-भिन्न हिस्सों में होगा। पहला आवासीय एनसीआर में और उसके आसपास होगा। दूसरा आवासीय महाराष्ट्र में शुरू होगा और तेलंगाना में ख़त्म। तीसरा आवासीय कर्नाटक, केरल से होते हुए तमिलनाडु में ख़त्म होगा।




प्रोग्राम पाठ्यक्रम क्या होगा और किस तरह का प्रशिक्षण दिया जाएगा?


प्रतिभागियों में राजनीतिक तत्परता पैदा करने के लिए प्रोग्राम में एक अंतःविषय पाठ्यक्रम दिया जाता है। हम साथ साथ सीखने के लिए, वाद-विवाद, संवाद, व्याख्यान, प्रस्तुतीकरण और जमीनी स्तर में रम जाने के लिए विभिन्न प्रकार के अनुदेशात्मक तरीकों का भी उपयोग करते हैं। पाठ्यक्रम और कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप हमारे कार्यक्रम पृष्ठ को देख सकते हैं।




क्या मैं एक आवासीय प्रोग्राम छोड़ सकता हूँ, कुछ दिन देरी से आऊँ या जल्दी चला जाऊं?


नहीं। हर आवासीय प्रोग्राम और तिमाही की रूपरेखा इस तरह बनाई गई है कि प्रतिभागियों में नेतृत्व का विकास हो और साथ ही जमीनी कार्य में काम आने वाले भिन्न कोशल और विशिष्ट जरूरतों को भी कैसे पूरा किया जाये, सिख सकें । हम छोटे और बहुत ही गहन मॉड्यूल को अपनाते है और उसमें कुछ दिन न आना मतलब सीखने का एक बहुत बड़ा हिस्सा छूट जाना। फिर भी किसी विशेष परिस्थिति को परिस्थिति की गंभीरता से समझा जा सकता है।




क्या आप डिग्री या प्रमाणपत्र देते हैं?


कोर्स पूरा होने के बाद आपको एक प्रमाणपत्र दिया जाएगा जो स्वीकारता है कि आपने हमारे साथ दी गुड पॉलिटिशियन' में भाग लिया है और इसे पूरा किया है। आईएसडी ने एक कार्य आधारित संस्था होना चुना है न कि अकादमिक संस्था। इस वजह से हमारे पास एक औपचारिक डिग्री या डिप्लोमा जारी करने के लिए जरूरी मान्यता नहीं है। हमारा पूरा ध्यान भविष्य के राजनीतिक नेताओं को सही मार्गदर्शन और दिशा प्रदान कर सहारा देने पर टिका हुआ है और ये सब हम अपने हर प्रोग्राम के जरिए विकसित करने की उम्मीद रखते है। हमारा मानना है कि यह सब किसी प्रमाणपत्र की तुलना में कहीं ज्यादा कीमती है।




निर्देशों की भाषा क्या होगी?


हमारे प्रतिभागी देशभर से आते हैं और विविध भाषाएँ बोलते हैं। इसलिए इसे सुलभ बनाने के लिए अधिकांश निर्देश हिंदी और अंग्रेजी में होंगे। हम आशा करते है कि प्रतिभागी दोनों में से एक भाषा में प्रवीण होंगे। हम पढ़ाई की सारी सामग्री दोनों भाषाओं में उपलब्ध कराते हैं। कोर्स में द्विभाषी निर्देश सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त मदद भी प्रदान की जाएगी। अगर आपके पास इसके अलावा भी कुछ सवाल है तो हमसे संपर्क कर सकते हैं।




आप नेताओं और पार्टियों में इंटर्नशिप या प्लेसमेंट करवाते हैं?


नहीं हमारी टीम और द गुड पॉलिटिशियन प्रोग्राम किसी तरह की इंटर्नशिप या नौकरी की जिम्मेदारी नहीं लेती है। प्रोग्राम आपको नेताओं को सुनने का, उनसे मिलकर जुड़ने के पर्याप्त मौके देता है। ये प्रतिभागियों के ऊपर निर्भर करता है कि किस तरह वे इस मौके का फायदा उठाते है। आईएसडी सिर्फ एक गुटनिरपेक्ष संयोजक की भूमिका निभाता है।




आवासीय प्रोग्राम में दिन कैसे बीतता है?


आवासीय प्रोग्राम बहुत कम समय का होता है इसलिए ये दिन भिन्न किर्याकलापों से भरे होते हैं। हमारे दिन सुबह जल्दी 6 बजे ही, पूरे ग्रुप के संग मॉर्निंग सर्किल के साथ शुरू होते हैं। उसके बाद थोड़ा शारीरिक व्यायाम, ध्यान और परिसर में श्रम दान किया जाता है। नाश्ता के बाद 8:30 के बाद का वक़्त भिन्न सत्र, बाहर से आये विशेष वक्ताओं से विमर्श में और यात्रा करने में लग जाते हैं। टीम के साथ में क्लोज़िंग सर्किल के बाद हमारा दिन रात 9 बजे ख़त्म होता है जिसके बाद प्रतिभागी चाहे तो आराम कर सकते हैं या अनोपचारिक रूप से आपस में चर्चा कर सकते हैं। .




जमीनी कार्य के दरमियान क्या होगा?


प्रत्येक प्रतिभागी के लिए जमीनी कार्य, प्रतिभागी किन क्षेत्रों में काम कर रहे हैं उस पर निर्भर करता है। जमीनी कार्य के दौरान साप्ताहिक ऑनलाइन सतत संपर्क रहेगा। ज्यादातर ये सब सप्ताह के अंत में होगा। हर दूसरे सप्ताह फैकल्टी, टीम और बाहर से आये अतिथि के साथ सत्र होंगे। इसी बीच प्रतिभागी से उम्मीद की जाती है कि वे जमीनी कार्य के दौरान हुए अनुभवों और अपनी प्रगति रिपोर्ट को साझा करेंगे और साथ ही जरूरत के आधार पर सहयोग भी लेंगे।




प्रोग्राम के दौरान प्रतिभागी से क्या अपेक्षित है?


  • तिमाही के पहले और बाद के सारे जरूरी काम पूरे हो
  • आवासीय प्रोग्राम और ऑनलाइन सत्र में उपस्थिति
  • सबका सम्मान और अपने दायित्वों के प्रति गंभीरता




आवासीय प्रोग्राम के दौरान रहने ठहरने की व्यवस्था?


आईएसडी एक मितव्ययी संस्था है अतः हमारी यात्रा, भोजन और रुकने की व्यवस्था बहुत ही साधारण और सादगीभरी होगी। आवासीय प्रोग्राम के दौरान टीम और प्रतिभागी, छात्रावास या सामुदायिक कमरों में साथ रहेंगे। कैंपस में सरल शाकाहारी भोजन दिया जाएगा। मेडिकल कंडीशन और खाने से होने वाली एलर्जी का भी ध्यान रखा जाएगा। यात्राएं नॉन ऐसी स्लीपर बस या रेल में स्लीपर श्रेणी से करवाई जाएगी।




आवासीय और यात्राओं के दौरान प्रतिभागियों की सुरक्षा को कैसे सुनिश्चित करेंगे?


हमारी टीम और प्रतिभागियों में 50% महिला होगी। इसलिए उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सारे आवासीय इलाकों का पहले से ही सर्वेक्षण किया जाएगा और सारे सुरक्षा संबंधी एहतियात बरते जाएंगे। आवासीय प्रोग्राम के दौरान प्रतिभागियों और टीम को छात्रावास में साथ ठहराया जाएगा। हम समूहों में यात्रा करेंगे और सभी लोगों का ध्यान रखेंगे। यात्रा की सारी व्यवस्था पूर्व में ही कर ली जाएगी और किसी की ख़ास जरूरत को भी ध्यान रखा जाएगा। टीम के सदस्यों और प्रतिभागियों को हमारी सख्त नीतियों का पालन करना होगा। किसी भी तरह के खतरे, दुर्व्यवहार या नुकसान का तुरंत संज्ञान लिया जाएगा और उसके अनुसार कारवाई की जाएगी।





प्रतिभागी और पूर्व छात्र

दूसरे ट्रेनिंग प्रोग्राम की तुलना में इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में ऐसी क्या विशेष बात है जिसे देखकर मैं इसका हिस्सा बनना चाहूं?


यहाँ दूसरे प्रोग्रामों की तरह आपको अपने काम से पूरे साल की छुट्टी नहीं लेनी पड़ती। दी गुड पॉलिटिशियन की प्रबंधक प्रकृति यह सुनिश्चित करती है कि प्रतिभागी बिना अपनी वर्तमान जिम्मेदारी को छोड़े इसका हिस्सा बन सके। 'करके सीखो' विचारधारा पर आधारित यह प्रोग्राम प्रतिभागियों द्वारा आवासीय चरण में सीखी गई शिक्षा को उनके कार्यक्षेत्र में आजमाने का मौका प्रदान करती है। इस प्रोग्राम की कल्पना ही सक्रिय कामकाजी लोगों के वर्तमान काम में मदद के लिए की गई है।




यह प्रोग्राम कब शुरू होगा?


यह प्रोग्राम 15 अगस्त 2021 से शुरू होकर मई 2022 तक चलेगा|




इस 9 महीने के प्रोग्राम की रूपरेखा क्या है?


9 महीनों को 3 तिमाही में विभाजित किया गया है। हर तिमाही में 2-3 हफ़्तों का 'आवासीय प्रोग्राम' होगा जहाँ प्रतिभागियों को खुद टीम और पूरे ग्रुप के साथ पूरा समय बिताना होगा। 'आवासीय' के बाद 12-16 हफ़्तों के 'जमीनी कार्य' में आप आवासीय में सीखी गई शिक्षा को अपने क्षेत्रों में अपनायेंगे। 'आवासीय प्रोग्राम' में अकादमिक और कौशल प्रशिक्षण के अलावा प्रतिभागियों को देश के भिन्न हिस्सों की यात्रा भी करवाई जाएगी ताकि वे भारत की विविधताओं को महसूस कर सके।




प्रोग्राम के लिए कितना समय देना होगा?


कामकाजी पेशेवर और राजनीति में सक्रिय लोग भी इसमें आवेदन कर सकते हैं बशर्ते वे 7 हफ़्तों के आवासीय प्रोग्राम और उसके अलावा साप्ताहिक ऑनलाइन क्लासेस में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा पाए। आवासीय के 7 हफ़्ते बहुत कड़े होंगे। हर मॉड्यूल के लिए पहले से ही अपेक्षित कार्य की जरूरत होगी। यात्रा के साथ ही बहुत सारे सत्र और चर्चाओं के चलते दिन बहुत व्यस्त होंगे। प्रतिभागी छोटे समूहों में बाँटे जाएंगे जहाँ वे सामूहिक कार्य करेंगे और साथ ही वे क्षेत्रीय सर्किल का भी हिस्सा होंगे जहाँ वे अपने फील्ड प्रोजेक्ट के ऊपर काम करेंगे। जमीनी कार्य के दौरान वे सीखी गई चीज़ों को अपने क्षेत्र में लागू करेंगे और हर सप्ताह होने वाली कॉल के जरिये उनपर और आगे भी काम करते रहेंगे। हम अपने प्रतिभागियों से ये आशा करते हैं कि वे अपनी भागीदारी को गंभीरता से लेंगे और तय समय पर अपेक्षित अकादमिक कार्य, प्रोजेक्ट से संबंधित दिये गए कामों को पूरा करने के साथ साथ अपने समूह के सदस्यों के प्रति अपने दायित्वों को निभाएंगे।




यह प्रोग्राम कहाँ आयोजित होगा?


हर आवासीय प्रोग्राम देश के भिन्न-भिन्न हिस्सों में होगा। पहला आवासीय एनसीआर में और उसके आसपास होगा। दूसरा आवासीय महाराष्ट्र में शुरू होगा और तेलंगाना में ख़त्म। तीसरा आवासीय कर्नाटक, केरल से होते हुए तमिलनाडु में ख़त्म होगा।




प्रोग्राम पाठ्यक्रम क्या होगा और किस तरह का प्रशिक्षण दिया जाएगा?


प्रतिभागियों में राजनीतिक तत्परता पैदा करने के लिए प्रोग्राम में एक अंतःविषय पाठ्यक्रम दिया जाता है। हम साथ साथ सीखने के लिए, वाद-विवाद, संवाद, व्याख्यान, प्रस्तुतीकरण और जमीनी स्तर में रम जाने के लिए विभिन्न प्रकार के अनुदेशात्मक तरीकों का भी उपयोग करते हैं। पाठ्यक्रम और कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप हमारे कार्यक्रम पृष्ठ को देख सकते हैं।




क्या मैं एक आवासीय प्रोग्राम छोड़ सकता हूँ, कुछ दिन देरी से आऊँ या जल्दी चला जाऊं?


नहीं। हर आवासीय प्रोग्राम और तिमाही की रूपरेखा इस तरह बनाई गई है कि प्रतिभागियों में नेतृत्व का विकास हो और साथ ही जमीनी कार्य में काम आने वाले भिन्न कोशल और विशिष्ट जरूरतों को भी कैसे पूरा किया जाये, सिख सकें । हम छोटे और बहुत ही गहन मॉड्यूल को अपनाते है और उसमें कुछ दिन न आना मतलब सीखने का एक बहुत बड़ा हिस्सा छूट जाना। फिर भी किसी विशेष परिस्थिति को परिस्थिति की गंभीरता से समझा जा सकता है।




क्या आप डिग्री या प्रमाणपत्र देते हैं?


कोर्स पूरा होने के बाद आपको एक प्रमाणपत्र दिया जाएगा जो स्वीकारता है कि आपने हमारे साथ दी गुड पॉलिटिशियन' में भाग लिया है और इसे पूरा किया है। आईएसडी ने एक कार्य आधारित संस्था होना चुना है न कि अकादमिक संस्था। इस वजह से हमारे पास एक औपचारिक डिग्री या डिप्लोमा जारी करने के लिए जरूरी मान्यता नहीं है। हमारा पूरा ध्यान भविष्य के राजनीतिक नेताओं को सही मार्गदर्शन और दिशा प्रदान कर सहारा देने पर टिका हुआ है और ये सब हम अपने हर प्रोग्राम के जरिए विकसित करने की उम्मीद रखते है। हमारा मानना है कि यह सब किसी प्रमाणपत्र की तुलना में कहीं ज्यादा कीमती है।




निर्देशों की भाषा क्या होगी?


हमारे प्रतिभागी देशभर से आते हैं और विविध भाषाएँ बोलते हैं। इसलिए इसे सुलभ बनाने के लिए अधिकांश निर्देश हिंदी और अंग्रेजी में होंगे। हम आशा करते है कि प्रतिभागी दोनों में से एक भाषा में प्रवीण होंगे। हम पढ़ाई की सारी सामग्री दोनों भाषाओं में उपलब्ध कराते हैं। कोर्स में द्विभाषी निर्देश सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त मदद भी प्रदान की जाएगी। अगर आपके पास इसके अलावा भी कुछ सवाल है तो हमसे संपर्क कर सकते हैं।




आप नेताओं और पार्टियों में इंटर्नशिप या प्लेसमेंट करवाते हैं?


नहीं हमारी टीम और द गुड पॉलिटिशियन प्रोग्राम किसी तरह की इंटर्नशिप या नौकरी की जिम्मेदारी नहीं लेती है। प्रोग्राम आपको नेताओं को सुनने का, उनसे मिलकर जुड़ने के पर्याप्त मौके देता है। ये प्रतिभागियों के ऊपर निर्भर करता है कि किस तरह वे इस मौके का फायदा उठाते है। आईएसडी सिर्फ एक गुटनिरपेक्ष संयोजक की भूमिका निभाता है।




आवासीय प्रोग्राम में दिन कैसे बीतता है?


आवासीय प्रोग्राम बहुत कम समय का होता है इसलिए ये दिन भिन्न किर्याकलापों से भरे होते हैं। हमारे दिन सुबह जल्दी 6 बजे ही, पूरे ग्रुप के संग मॉर्निंग सर्किल के साथ शुरू होते हैं। उसके बाद थोड़ा शारीरिक व्यायाम, ध्यान और परिसर में श्रम दान किया जाता है। नाश्ता के बाद 8:30 के बाद का वक़्त भिन्न सत्र, बाहर से आये विशेष वक्ताओं से विमर्श में और यात्रा करने में लग जाते हैं। टीम के साथ में क्लोज़िंग सर्किल के बाद हमारा दिन रात 9 बजे ख़त्म होता है जिसके बाद प्रतिभागी चाहे तो आराम कर सकते हैं या अनोपचारिक रूप से आपस में चर्चा कर सकते हैं। .




जमीनी कार्य के दरमियान क्या होगा?


प्रत्येक प्रतिभागी के लिए जमीनी कार्य, प्रतिभागी किन क्षेत्रों में काम कर रहे हैं उस पर निर्भर करता है। जमीनी कार्य के दौरान साप्ताहिक ऑनलाइन सतत संपर्क रहेगा। ज्यादातर ये सब सप्ताह के अंत में होगा। हर दूसरे सप्ताह फैकल्टी, टीम और बाहर से आये अतिथि के साथ सत्र होंगे। इसी बीच प्रतिभागी से उम्मीद की जाती है कि वे जमीनी कार्य के दौरान हुए अनुभवों और अपनी प्रगति रिपोर्ट को साझा करेंगे और साथ ही जरूरत के आधार पर सहयोग भी लेंगे।




प्रोग्राम के दौरान प्रतिभागी से क्या अपेक्षित है?


  • तिमाही के पहले और बाद के सारे जरूरी काम पूरे हो
  • आवासीय प्रोग्राम और ऑनलाइन सत्र में उपस्थिति
  • सबका सम्मान और अपने दायित्वों के प्रति गंभीरता




आवासीय प्रोग्राम के दौरान रहने ठहरने की व्यवस्था?


आईएसडी एक मितव्ययी संस्था है अतः हमारी यात्रा, भोजन और रुकने की व्यवस्था बहुत ही साधारण और सादगीभरी होगी। आवासीय प्रोग्राम के दौरान टीम और प्रतिभागी, छात्रावास या सामुदायिक कमरों में साथ रहेंगे। कैंपस में सरल शाकाहारी भोजन दिया जाएगा। मेडिकल कंडीशन और खाने से होने वाली एलर्जी का भी ध्यान रखा जाएगा। यात्राएं नॉन ऐसी स्लीपर बस या रेल में स्लीपर श्रेणी से करवाई जाएगी।




आवासीय और यात्राओं के दौरान प्रतिभागियों की सुरक्षा को कैसे सुनिश्चित करेंगे?


हमारी टीम और प्रतिभागियों में 50% महिला होगी। इसलिए उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। सारे आवासीय इलाकों का पहले से ही सर्वेक्षण किया जाएगा और सारे सुरक्षा संबंधी एहतियात बरते जाएंगे। आवासीय प्रोग्राम के दौरान प्रतिभागियों और टीम को छात्रावास में साथ ठहराया जाएगा। हम समूहों में यात्रा करेंगे और सभी लोगों का ध्यान रखेंगे। यात्रा की सारी व्यवस्था पूर्व में ही कर ली जाएगी और किसी की ख़ास जरूरत को भी ध्यान रखा जाएगा। टीम के सदस्यों और प्रतिभागियों को हमारी सख्त नीतियों का पालन करना होगा। किसी भी तरह के खतरे, दुर्व्यवहार या नुकसान का तुरंत संज्ञान लिया जाएगा और उसके अनुसार कारवाई की जाएगी।





संस्था और लोग

चयन प्रक्रिया क्या है और कितने चरण में पूरी होगी?


हमारा हर प्रोग्राम उम्मीदवार को पूरी तरह समझने पर जोर देता है। इसलिए हमारी चयन प्रक्रिया अमूमन बहुत विस्तृत होती है। दी गुड पॉलिटिशियन प्रोग्राम के तीन चरण है। सबसे पहला है ऑनलाइन आवेदन फॉर्म। फॉर्म 26 नवंबर से उपलब्ध होंगे। चुने गए प्रतिभागियों को हमारी टीम के एक सदस्य के साथ वीडियो इंटरव्यू के लिए आमंत्रित किया जाएगा। इन इंटरव्यू को दिसम्बर के आखिर में या जनवरी की शुरुआत में लिया जाएगा। सबसे आखिर चरण में उम्मीदवार को ख़ुद वीकेंड बूटकैम्प में आना होगा। चुने गए उम्मीदवारों को एक क्षेत्रीय कैम्प में 2 दिन हमारे साथ जुड़ने के लिए बुलाया जाएगा। यह मार्च और अप्रैल में पूरे भारत में होगा। अंत में जो चुने जाएंगे उन्हें कॉल या ईमेल के जरिए औपचारिक आमंत्रण भेज दिया जाएगा। मई 2021 तक आप अंतिम परिणाम आने की उम्मीद कर सकते हैं।




इस प्रोग्राम के लिए एक आदर्श उम्मीदवार कौन है?


हम उन युवाओं की तलाश में है जो भविष्य में सिद्धांतवादी राजनेता बनना चाहते हैं। हम राजनीतिक दलों, राजनीति में काम कर रहे दूसरे संगठनों, सामाजिक आंदोलनों, छात्र राजनीति, चुनाव और अभियानों, संगठित संघ समूहों आदि से जुड़े हुए और पहले से ही जमीन पर राजनीतिक काम में शामिल युवा नेताओं की तलाश कर रहे हैं। जो भिन्न मुद्दों या क्षेत्रों में काम कर रहे हो और उनका गहन स्थानीय राजनीतिक समझ हो और जिनके पास पास जमीन पर काम करने का अनुभव भी हो|




क्या प्रोग्राम में शामिल होने के लिए कोई न्यूनतम पात्रता है?


उम्मीदवार का 12वी पास होना जरूरी है। यह कोर्स के दौरान दी जाने वाले पढ़ाई की सामग्री और काम को समझने के लिए आवश्यक है। उम्र की सीमा बहुत विस्तृत है, 25 से 45 वर्ष। अगर कोई असाधारण व्यक्ति जिसकी उम्र इससे भी ज्यादा है उसे अपवादस्वरूप शामिल किया जा सकता है।




आवेदन कैसे करें?


ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की लिंक प्रोग्राम पेज पर दी गई है। फॉर्म द्विभाषी है। आप अपने उत्तर हिंदी या अंग्रेजी में लिख सकते हैं।




आवेदन करने की फीस है?


ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की लिंक प्रोग्राम पेज पर दी गई है। फॉर्म द्विभाषी है। आप अपने उत्तर हिंदी या अंग्रेजी में लिख सकते हैं।




मैं फुलटाइम काम कर रहा हूँ क्या फिर भी मैं आवेदन कर सकता हूँ?


प्रोग्राम में 9 महीनों के अंतराल में 7 हफ़्ते का अनिवार्य आवासीय प्रशिक्षण और जमीनी कार्य के दौरान साप्ताहिक ऑनलाइन सत्र होता है। अगर आपको लगता है कि आप प्रतिबद्धता के साथ इतना समय दे पाएंगे, तो आपको जरूर आवेदन करना चाहिए।




मैं पहले से ही एक राजनीतिक पार्टी से जुड़ा हुआ हूँ क्या मैं आवेदन कर सकता हूँ?


जी, हमें ऐसे लोगों की ही तलाश है जो पहले से ही जमीन पर सक्रिय है। आपका किसी भी पार्टी से संबंध हो, आप प्रोग्राम के लिए आवेदन कर सकते हैं।




व्यक्तिपरक प्रश्नों के उत्तर में मुझे क्या लिखना चाहिए?


आवेदन फॉर्म आपको अपने बारे में, अपनी कहानी कहने, अपने अनुभवों और सपनों को बताने का मौका देता है। हम प्रतिभागी के जवाब में ईमानदारी ढूंढ़ते हैं। इसलिए हम आपको प्रोत्साहित करते हैं कि आप निष्ठा और अपने मन से सारे प्रश्नों के जवाब दें।




क्या मैं आवेदन में अपना सीवी या अनुभव प्रमाणपत्र प्रस्तुत कर सकता हूँ?


हाँ, अपने आवेदन का समर्थन करने के लिए आप दो दस्तावेज तक लगा सकते हैं।




आवेदन करने के कितने समय बाद मुझे जवाब मिल जाएगा?


हमें बहुत सारे लोग आवेदन मिलते है। छोटी टीम होने के चलते एक एक फॉर्म से गुजरने में बहुत वक़्त लगता है। अमूमन 3-6 हफ़्तों में आपको जवाब मिल जाएगा। इसके अलावा आप हमारे प्रोग्राम पेज पर जाकर घटनाक्रम को समझ सकते हैं और उनके इर्द गिर्द अपने जवाब की उम्मीद कर सकते हैं।




चयन प्रक्रिया मेरी राजनीतिक और नेतृत्व क्षमता का कैसे आंकलन करेगी? प्रोग्राम में चयन होने का अंतिम निर्णय कब बताया जाएगा?


कोहोर्ट के लिए अंतिम निर्णय की उम्मीद मई 2021 तक की जा सकती है। पूरी प्रक्रिया के दौरान हमारी टीम आपसे संपर्क में रहती है और होने वाले परिवर्तनों के बारे में आपको सूचित करती रहती है।




क्या एक भारतीय जो विदेश में रहता है आवेदन कर सकता है?


हाँ. अगर आप भारतीय नागरिक है तो आवेदन कर सकते हैं। हालांकि आपका चयन इस बात पर निर्भर करता है कि आपके वर्तमान राजनीतिक अनुभव और महत्वकांक्षा हमारी अपेक्षा पर खरी उतरती है या नहीं।.




मैं विदेशी पासपोर्ट धारक भारतीय हूँI क्या आवेदन कर सकता हूँ ?


नहीं, चुनाव लड़ने के लिए भारतीय पासपोर्ट का होना जरूरी होता है।




क्या दिव्यांग इसके लिए आवेदन कर सकते हैं?


हाँ, हमारा प्रोग्राम सबका स्वागत करता है। प्रोग्राम को राजनीतिक काम और जुड़ाव के लिए बनाया गया है। अगर आप राजनीति के लिए उचित बैठते है तो हमारे लिए भी आपका स्वागत है।




प्रतिनिधि कोहॉर्ट क्या है? हर ग्रुप में आप विवधता कैसे सुनिश्चित करेंगे?


हमारा कोहॉर्ट सही अनुपात में भारत की जातियों, धर्म, वर्ग और क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करता है। इसके साथ ही 50% महिला और 50% पुरूष। इस प्रोग्राम के बारे में जानकारी देने के लिए हम चयनित इलाकों में जाकर और भिन्न नेटवर्क के जरिये यह सुनिश्चित करते है की विभिन्न जगह और व्यक्तियों तक ये बात पहुँच सकें। लोकतंत्र सबका है और हमारे सारे सहयोगियों ने विविधता लाने में हमारी मदद की है।




क्या किसी विशेष लिंग , समुदाय या पृष्ठभूमि से आने वाले को खास तरजीह दी जाती है?


हम महिलाओं और दूसरे वंचित तबकों को प्रोत्साहित करते हैं कि वे प्रोग्राम का हिस्सा बने। राजनीति में जाने के लिए अधिकांश जेंडर और तबकों के लिए पारंपरिक तरीके मौजूद है। जो वंचित रह गए हैं उनके लिए हमें एक वैकल्पिक रास्ता बनाना होगा। हालांकि प्रोग्राम में किसी के लिए हम अपनी अपेक्षाओं को कम नहीं करते हैं पर हाँ चकाचौंध से दूर रहे लोगों के पास जाकर प्रोग्राम के बारे में बताकर मदद जरूर करते हैं।




क्या वंचित पृष्ठभूमि के लिए प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा?


आवेदन के स्तर पर नहीं। अगर आप प्रोग्राम में शामिल किए जाते हैं तब इस तरह के प्रमाणपत्र की जरूरत पड़ेगी।




अगर मैं वीकेंड बूटकैम्प के चुना जाता हूँ तो मेरी यात्रा खर्च का वहन आईएसडी करेगा? कितनी सिफारिश या रिफरेन्स प्रस्तुत करने होंगे?


अलग अलग लोगों से 3 सिफारिश की आवश्यकता है। एक प्रबंधक से, सहकर्मी से दूसरी और आपके चुनाव क्षेत्र से किसी सदस्य से तीसरी।




वीडियो इंटरव्यू में क्या होने वाला है?


वीडियो इंटरव्यू में हमारी टीम का एक सदस्य एक उम्मीदवार से 45-50 मिनट तक बात करेगा। बातचीत का उद्देश्य आपके पूर्व अनुभवों,राजनीति में आने की प्रेरणा और वर्तमान अनुभवों को समझना है। इसके लिए अलग से तैयारी की जरूरत नहीं। बस आराम से आइए।




वीकेंड बूटकैम्प में क्या होगा?


बूटकैम्प में आप प्रोग्राम के अपने संभावी साथियों के साथ वीकेंड बिताते हैं जहाँ चर्चाएँ, वादविवाद, सत्र और दूसरी गतिविधियां होती है। आपको हमारी टीम, क्षेत्र के दूसरे राजनीतिक उम्मीदवार से मिलने का और साथ ही अपना काम साझा करके एक दूसरे से सीखने का मौका मिलता है। प्रतिभागी तय स्थान पर शुक्रवार शाम को आएँगे और रविवार शाम को रवाना हो जाएंगे।





CONTACT US

212, 4th Floor, Shahpur Jat, New Delhi 110049

+91 93190 12765 • contact@indianschoolofdemocracy.org

INTERACT WITH US

  • Youtube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter
  • LinkedIn

CC BY-SA2020 Indian School of Democracy  Design by Small Town Folk